आईसेक्ट विश्वविद्यालय में प्रसिद्ध वैज्ञानिक डा. जयंत सहस्रबुद्धे का व्याख्यान

आईसेक्ट विश्वविद्यालय में प्रसिद्ध वैज्ञानिक डा. जयंत सहस्रबुद्धे का व्याख्यान

  • Added By: Wednesday, June 28, 2017 12:00 AM


भारतीय विज्ञान परंपरा में विवेकानंद के विचारों का बहुत महत्व है। विवेकानंद वैज्ञानिक दृष्टि से संपन्न विचारक थे। अपने विश्व भ्रमण के दौरान उन्होंने निकोला टेस्ला समेत कई वैज्ञानिकों के साथ अपने विचार साझा किए। पदार्थ और ऊर्जा के आपसी संबंधों पर विवेकानंद ने जो राय टेस्ला के साथ चर्चा में साझा की थी। उसे आज इस गणितीय सूत्र E=mc2 आईंस्टाइन का प्रसिद्ध समीकरण के रूप में जानते हैं। उक्त उद्गार आईसेक्ट विश्वविद्यालय के विज्ञान और संचार केन्द्र द्वारा आयोजित तृतीय विज्ञान व्याख्यान माला के अंतर्गत विज्ञान भारती के संगठन सचिव डा. जयंत सहस्त्रबुद्धे ने व्यक्त किए। इस अवसर पर आईसेक्ट विश्वविद्यालय के कुलाधिपति श्री संतोष चौबे ने कहा कि भारतीय विज्ञान परंपरा से जुड़ा हुआ है। उन्होंने डा. जयंत सहस्त्रबुद्धे के बहुआयामी व्यक्तित्व और विज्ञान प्रसार कार्यों में उनकी भूमिका की सराहना की। इस अवसर पर आईसेक्ट विश्वविद्यालय की विज्ञान पत्रिका इलेक्ट्रानिकी आपके लिए और शोध पत्रिका के नये अंक शोधायतन का विमोचन भी किया गया।